मेष rashi के जातकों का गुण, स्वभाव और व्यक्तित्व

By

मेष rashi का स्वामी ग्रह मंगल होता है। ये ग्रह जातक के जीवन में पराक्रम और उत्साह का कारक माना गया है। शायद यही वजह है कि मेष राशि के जातक हमेशा ही जीवन के प्रति एक नयी ऊर्जा और उत्साह वाले होते हैं।

मेष राशि का चिन्ह : मेष rashi का चिन्ह ‘मेढ़ा’ होता हैं,

जो निडरता और अपने साहस के लिए जाना जाता है। अपनी राशि के चिन्ह के अनुसार ही मेष राशि के लोग अपना जीवन अपनी शर्तों पर जीने में विश्वास रखते हैं। इन्हें अपनी विचारधारा के साथ किसी तरह का कोई समझौता करना बिलकुल पसंद नहीं होता है।

मेष जातकों की शारीरिक बनावट :

मेष rashi के लोगों को अपने आसपास और खुद भी सफाई बेहद पसंद होती है।

वो हर काम को सफाई से ही करना पसंद करते हैं। मेष राशि से ताल्लुक रखने वाले लोग अक्सर सतर्क रहते हैं। अगर आप किसी मेष जातक को करीब से देखें तो आपको नज़र आएगा कि इनकी भौहें अमूमन ऊपर की ही तरफ चढ़ी रहती हैं। इन्ही कोई भी काम मिले, सतर्कता पर इनका ध्यान पहले जाता है।

मेष जातकों का व्यक्तित्व : मेष जातकों को अक्सर उनके उदार स्वभाव के लिए जाना जाता है।इसके अलावा क्योंकि मेष राशि के स्वामी ग्रह मंगल होते हैं

इसलिए इन्हें कोई भी काम उत्तेजना के साथ शीघ्र ही करना पसंद होता है।

मेष जातकों की कल्पना और निरीक्षण शक्ति बहुत ही अच्छी होती है।

मेष जातकों के शौक : मेष जातकों का झुकाव उन क्षेत्रों में अधिक होता है, जिनमें बिना ज़्यादा मेहनत के धन मिलने की संभावना होती है, जैसा जुआ/लॉटरी इत्यादि।

इसके अलावा जिन क्षेत्रों में मेष जातकों को अपना हुनर दिखाने का मौका मिले,उन्हें उसमें भी काफी रूचि होती है। नृत्य,अभिनय जैसे क्षेत्रों की तरफ मेष जातकों का झुकाव बेहद अधिक होता है।

मेष जातकों की कमियाँ : मेष राशि के लोग बहुत जल्दी गुस्सा हो जाते हैं

और इन्हें अपना अपमान बर्दाश्त नहीं होता।

जिद्दी होने के साथ-साथ मेष जातक तब तक अपनी गलती नहीं स्वीकारते हैं

जब तक उन्हें उस गलती से कोई भारी नुकसान ना उठाना पड़ जाए।

मेष जातकों की हमेशा उनके परिवार में किसी एक ना एक सदस्य से खटपट चलती ही रहती है।

मेष जातकों का शिक्षा और व्यवसाय : मेष राशि का सीधा संबंध मस्तिष्क से होता है

इसलिए इस राशि के जातक शिक्षा के क्षेत्र में काफी सफल रहते हैं।

बात अगर व्यवसाय की करें तो ज़मीन-जायदाद, खेल-कूद,खनिज,

कोयला इत्यादि क्षेत्रों में बिज़नेस करना मेष जातकों के लिए फ़ायदेमंद हो सकता है।

मेष जातकों का प्रेम संबंध : मेष राशि के लोगों को अक्सर प्यार

में क्षणिक आनंद ही प्राप्त हो पाता है।

मेष राशि वालों को अकसर मनचाहा साथी नहीं मिल पाता है।

मेष राशि की जातक स्त्रियां काफी अभिमानी होती हैं,

इन्हें आप तोहफे इत्यादि से भी खुश नहीं कर सकते हैं।

मेष राशि के जातकों का वैवाहिक/दांपत्य जीवन- पारिवारिक जीवन :

मेष राशि के पुरुष जातक हमेशा ही अपनी पत्नियों को

सक्रिय और आकर्षक देखना चाहते हैं।

मेष जातकों को प्रेम में बहुत आश्वासन चाहिए होता है।

पति-पत्नी के निजी संबंधों के मामले में मेष जातक काफी आदर्शवादी होते हैं

जिसके चलते इनके रिश्ते में काफी कलह पैदा हो जाती है।

मेष जातकों को समाज में इज़्ज़त और

सम्मान की नज़रों से देखा जाता है।

मेष rashi के जातकों के इष्ट मित्र :

मेष राशि वाले जातकों की कुंभ rashi से बहुत अच्छी पटती है।

इसके अलावा सिंह, धनु और मिथुन राशि से भी मित्रता रहती है।

मेष जातकों का शुभ अंक :

9

मेष जातकों का शुभ रंग :

सफ़ेद

मेष जातकों का शुभ दिन :

मंगलवार

मेष जातकों का शुभ रत्न :

मूँगा

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like