मंत्री जयशंकर का चीन को दो टूक, LAC यथास्थिति में परिवर्तन का कोई भी एकतरफा प्रयास स्वीकार नहीं

webmorcha.com
विदेश मंत्री एस. जयशंकर फाइल फोटो

नई दिल्ली: रविवार 01 नवंबर 2020/ चीन-भारत (cheen bhaarat) सीमा गतिरोध के बीच विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर यथास्थिति में परिवर्तन का कोई भी एकतरफा प्रयास ‘अस्वीकार्य’ है और संबंधों में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए दोनों देशों के बीच के समझौतों का पूरी समग्रता के साथ ‘निष्ठापूर्वक’ सम्मान किया जाना चाहिए।

ALSO READ:देखिए वीडियो: चीन को भारत ऐसा दिया धक्का कि वह सहम गया : आरएसएस प्रमुख भागवत

जयशंकर ने कहा कि सीमा क्षेत्रों में शांतिपूर्ण माहौल ने भारत और चीन (cheen bhaarat) के बीच अन्य क्षेत्रों में समन्वय के विस्तार के लिए आधार उपलब्ध कराया, लेकिन महामारी सामने आने के बीच संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं। वे सरदार पटेल स्मारक व्याख्यान दे रहे थे जिसका आकाशवाणी से प्रसारण किया गया।

ALSO READ:Indian Army के पराक्रम से खौफ में China, लद्दाख पर तैनाती हुई तो रोने लगे चीनी सैनिक!

विदेश मंत्री ने कहा कि उन धारणाओं में परिवर्तन से संबंध अप्रभावित नहीं रह सकते जो इसे रेखांकित करती हैं। उन्होंने कहा कि तीन दशकों तक संबंध स्थिर रहे क्योंकि दोनों देशों ने नयी परिस्थितियों और विरासत में मिली चुनौतियों का समाधान किया।

भारत और चीन के बीच पिछले 5 महीने से भी अधिक समय से पूर्वी लद्दाख में सीमा पर गतिरोध बना हुआ है जिससे संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं। दोनों पक्षों के बीच राजनयिक एवं सैन्य स्तर पर कई दौर की वार्ता हो चुकी है लेकिन गतिरोध समाप्त नहीं हो सका है। (भाषा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here