योजनाओं का नाम बदलने पर विपक्ष का हंगामा, स्थगन की मांग

रायपुर. योजनाओं के नाम बदलने को लेकर आज सदन भी खूब गरमाया. दीनदयाल उपाध्याय के नाम से शुरू की गई योजनाओं का नाम बदले जाने पर विपक्ष नाराज हुआ. शून्यकाल में भाजपा विधायकों ने योजनाओं के नाम को बदलने को लेकर सत्ता पक्ष से जवाब मांगा. शून्यकाल में नारायण चंदेल ने दीनदयाल के नाम पर संचालित योजनाओं का नाम बदलने को लेकर ऐतराज जताते हुए चर्चा की मांग की. चंदेल का साथ अजय चंद्राकर, शिवरतन शर्मा, बृजमोहन अग्रवाल और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने भी दिया.

http://नगरीय निकाय ने पांच योजनाओं का नाम बदला, आदेश जारी

अजय चंद्राकर ने कहा कि किसी महापुरुष की विचारधारा व उनके नाम पर संचालित योजनाओं कौ बदला जाना अलोकतांत्रिक है, जिसे बदला जाना चाहिए. जवाब में नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया ने कहा कि नाम बदलने की शुरुआत को भाजपा ने ही की थी. इंदिरा, राजीव गांधी के नाम पर जो योजनाएं चल रही थी, उसे बदला गया था. उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र की दुहाई देने वालों को खुद देखना चाहिए उन्होंने क्या किया. नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि योजनाओं का नाम रातों-रात बदलकर सरकार ने दूषित मानसिकता का परिचय दिया है.

http://रेलवे में 2 लाख से ज्यादा सरकारी नौकरियां ! 2 चरणों में ऐसे होगी भर्ती

उन्होंने इसे महापुरुषों का अपमान बताया. शिवरतन शर्मा ने कहा कि अगर योजनाओं का नाम बदलकर किसी महापुरुष के नाम पर किया जाता तो ऐतराज नहीं थी, लेकिन किसी महापुरुष के नाम पर संचालित योजनाओं को बदलना पूरी तरह से अलोकतांत्रिक है. उन्होंने इस परंपरा को देश के लिए गलत बताया.

जुडिए हमसे…

https://www.facebook.com/webmorcha/
https://twitter.com/
www.webmorcha.com
https://www.youtube.com
https://www.instagram.com/webmorcha

https://plus.google.com/people

whatsapp 9617341438

News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *