दीपोत्सव पर रंग बिरंगे गोबर के दीयों से सजेंगे घर-आंगन : ग्राम अंजोरा के बिहान की खुशी स्वसहायता समूह की महिलाएं छत्तीसगढ़ की परंपरा के अनुरूप बना रही हैं दीये

राजनांदगांव। दीपोत्सव पर रंग बिरंगे गोबर के दीयों से सजेंगे घर-आंगन। राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम अंजोरा के बिहान की खुशी स्वसहायता समूह की महिलाएं छत्तीसगढ़ परंपरा के अनुरूप गोबर के दीये बना रही है। छत्तीसगढ़ शासन के छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिलाएं आर्थिक रूप से सशक्त हो रही है। गोबर के प्रबंधन एवं इसके महत्व को समझते हुए महिलाओं को स्वावलंबी बनाने की दिशा में कारगर कदम उठाए गए हैं।

http://भू-जल संरक्षण के लिए वन क्षेत्रों के नालों में काफी तादाद में हो रहे कार्य : वन मंत्री अकबर

कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा के निर्देशन एवं सीईओ जिला पंचायत श्रीमती तनुजा सलाम के मार्गदर्शन में गोबर का दीया बनाने की पहल की गई है। खुशी स्वसहायता समूह की श्रीमती मोहनी साहू मसाला व्यवसाय करती हैं। वे अपने समूह के सदस्यों के साथ दीपावली पर्व के लिए गोबर का दीया बनाने का कार्य कर रही हैं। समूह से छोटे-छोटे ऋण लेकर इस कार्य को प्रारंभ किया गया हैं, बहुत कम लागत में गोबर के दीये बनाने का कार्य प्रारंभ किया गया हैं। दीपावली पर्व में दीये का महत्वपूर्ण स्थान है। गोबर के दीयों का उपयोग पश्चात् घरों में गमलो में डाला जा सकता हैं,

http://स्वास्थ्य विभाग ने 196 नवनियुक्त चिकित्सा अधिकारियों के पदस्थापना आदेश जारी

जो पौधों के लिए खाद का काम करता है। वर्तमान तक कुल 7000 नग दीया बनाया जा चुका हैं एवं 3000 नग दीया विक्रय किया जा चुका हैं। दीया निर्माण का कार्य निरंतर प्रगतिरत हैं। खुशी स्वयं सहायता समूह, ग्राम पंचायत अंजोरा के सदस्यों के कार्य को प्रोत्साहित करने के लिए श्रीमती तनुजा सलाम नेे निर्देश दिये हैं कि दीपावली के पूर्व जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत परिसर के साथ ही  बिहान संकुल संगठनों में दीया विक्रय हेतु स्टाल लगाया जाये ताकि अधिक से अधिक लोग गोबर के दीयों का लाभ ले सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here