वृष, मिथुन, कन्या और वृश्चिक को मिलेगा फायदा, शुक्रवार 23 अक्टूबर से शुक्र का राशि परिवर्तन से सीधे राशि पर पड़ेगा प्रभाव

webmorcha.com
शुक्र ग्रह

शुक्र ग्रह शुक्रवार 23 अक्टूबर 2020 से कन्या राशि में प्रवेश कर रहा है। शुक्र का राशि परिवर्तन सुबह 10 बजकर 34 मिनट पर होगा। शुक्र आगामी 25 दिन अर्थात 17 नवंबर तक इसी राशि में रहने वाला है। शस्त्रों के अनुसार नवरात्र के बीच शुक्र का यह गोचर चार राशि वालों के लिए बेहद मंगलमय साबित हो सकता है. इस दौरान वृषभ, मिथुन, कन्या और वृश्चिक राशि में धन योग बनेगा।

मेष: शुक्र आपकी राशि से छठे भाव में गोचर कर रहा है। शुक्र आपकी राशि में सबसे अधिक  कमजोर स्थिति में होंगे. आपको कई प्रकार की विपरीत परिस्थितियों से दो-चार होना पड़ सकता है. धन को सही रणनीति और सही योजना के साथ ही खर्च करने की जरूरत होगी. आगे चलकर आर्थिक तंगी भी हो सकती हैं. इस दौरान धन को लेकर किसी भी तरह के लेन-देन को न करें. यदि आप पार्टनरशिप में बिजनेस करते हैं तो सतर्क रहें। आगे पढ़ें

वृष: शुक्र देव आपके पंचम भाव भाव में जा रहा है। आपको संतान पक्ष की ओर से कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है. समाज में आपके मान-सम्मान में भी बढ़ोत्तरी होगी. कार्यक्षेत्र पर आपको धन कमाने के साथ-साथ प्रगति करने के भी कई अवसर प्राप्त होंगे. चूंकि शुक्र रचनात्मकता और प्रेरक शक्तियों का भी कारक माना जाता है, इसलिए आप अपने विचारों से दूसरों को आकर्षित करने में सफल होंगे.आगे पढ़ें

यहां पढ़ें: जीवन में शुक्र ग्रह का विशेष प्रभाव, जानिए शुक्र दोष दूर करने के लिए

मिथुन: शुक्र आपकी राशि से चतुर्थ भाव में विराजमान रहेंगे. कुंडली के चौथे भाव को सुख भाव कहा जाता है. कार्यक्षेत्र पर आपको अच्छे फलों की प्राप्ति के योग हैं। आपके सोचने-समझने की शक्ति भी प्रबल दिखाई देगी. आपकी मां से आपके संबंधों में निखार आएगा. मां का स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा. नया वाहन या घर भी लेने का प्लान कर सकते हैं. धन आएगा जरूर, लेकिन उसे सोच समझकर खर्च करें. आगे पढ़ें

कर्क: शुक्र देव आपकी राशि से तृतीय भाव में प्रवेश कर रहा है. इस गोचर के दौरान आपके साहर और पराक्रम में वृद्धि होगी. आपके भाई-बहन भी सफल होंगे. कार्यक्षेत्र पर इस गोचर से आपको, अनुकूल फल मिलेंगे. यदि आप नौकरी बदलने के बारे में सोच रहे थे तो आपको इस समय स्थानांतरण करने के कई अवसर मिलने की संभावना रहेगी. कार्यस्थल पर किसी महिला सहकर्मी और परिवार का सहयोग प्राप्त होगा। आगे पढ़ें

सिंह: कन्या राशि में गोचर करते हुए शुक्र आपकी राशि से द्वितीय भाव में गोचर करेंगे. आपको अच्छे फलों की प्राप्ति होगी. आपको उन्नति और तरक्की करने के भी कई अवसर प्राप्त होंगे. दांपत्य जीवन बढ़ाने की सोच रहे थे तो उसके लिए समय बेहद शुभ है. जीवनसाथी के साथ रोमांटिक समय बिताने का मौका मिलेगा. हालांकि आपको खर्चों से संभलकर रहना होगा.आगे पढ़ें

यहां पढ़ेंशुक्र ग्रह के प्रभाव और उपाय।

कन्या: इस गोचर के दौरान शुक्र ग्रह आपकी ही राशि में, यानी आपके प्रथम भाव यानी लग्न भाव में स्थित होंगे. आपका ध्यान अपने लक्ष्य से कुछ भटक सकता है। व्यापार करने वालों की राशि में धन योग बन रहा है जो आपको इस अवधि में आर्थिक और सामाजित लाभ देगा. आपके पिता भी इस समय आपको पूरी तरह सहयोग करते दिखाई देंगे. आगे पढ़ें

तुला: तुला- कन्या राशि में गोचर के दौरान शुक्र आपकी राशि से 12वें भाव में प्रवेश करेंगे. जिससे आपको मिश्रित परिणामों की प्राप्ति होगी. शुक्र देव की ये स्थिति आपके मन में खुद की योग्यता को लेकर कई प्रकार के संदेह उत्पन्न करेगी. इससे आप असहज महसूस करते हुए बहुत से अच्छे अवसर गंवा सकते हैं. आप अपने दोस्तों एवं करीबियों की मदद से, कोई लाभ उठा सकते हैं.आगे पढ़ें

वृश्चिक: गोचर की इस अवधि में शुक्र आपकी राशि से एकादश भाव में स्थित होंगे, जिससे आपको अनुकूल फलों की प्राप्ति होगी. कुंडली में एकादश भाव को आमदनी का भाव कहा जाता है. करियर और कार्यक्षेत्र के लिए ये गोचर आपके लिए बेहद शुभ रहने वाला है। राशि में धन लाभ और तरक्की के योग बनेंगे. आपका मान-सम्मान बढ़ेगा. साथ ही आपकी जीवन शैली में भी सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा.आगे पढ़ें

धनु: शुक्र आपकी राशि से दशम भाव में गोचर करेंगे, जिससे आपको प्रतिकूल परिणाम प्राप्त होंगे. कार्यक्षेत्र में हर काम से असंतुष्टि महसूस होगी. शत्रु सक्रिय रहेंगे. आप अपनी योग्यताओं को लेकर थोड़ा उलझन में दिखाई देंगे. इस समय धन के लेन-देन से परहेज करें। साथ ही पैसा कमाने के लिए, किसी भी तरह का शॉर्टकट न अपनाएं. दोस्तों और करीबियों से झगड़ा संभव है. पारिवारिक जीवन में भी पिता की खराब सेहत आपके मानसिक तनाव को लगातार बढ़ाने का कार्य करेगीआगे पढ़ें

यहां पढ़ें: अपने नाम के अक्षर से जानिए आपका नक्षत्र क्या है, नक्षत्र के आधार पर जानिए जीवनशैली, व्यवहार और अपने व्यक्तित्व

मकर: गोचर की इस अवधि में शुक्र आपकी राशि से नवम भाव में गोचर करेंगे, जिससे आपको अनुकूल फलों की प्राप्ति होगी. नौकरी बदलने के बारे में सोच रहे लोगों को अच्छे अवसर प्रदान होंगे. पिता या पिता तुल्य किसी व्यक्ति से आपके संबंध बेहतर होंगे, जिस कारण आपको हर जरूरी सहयोग और सलाह मिलेगी। उच्च शिक्षा की तैयारी के लिए विदेश जाने की इच्छा रखने वाले जातकों को इस गोचर के दौरान विदेश जाने का अवसर प्राप्त होगा.आगे पढ़ें

कुंभ: शुक्र आपकी राशि से अष्टम भाव में स्थित होंगे, जिससे आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी. अपने काम से आप सहकर्मियों और वरिष्ठ अधिकारियों से भरपूर प्रशंसा पाएंगे। यदि आप व्यापार करते हैं तो आपको शुक्र के इस गोचर के दौरान धन लाभ के कई मौके मिलेंगे. साथ ही आपको अपनी किसी पैतृक संपत्ति से लाभ मिल सकता है.आगे पढ़ें

मीन: शुक्र आपकी राशि से सप्तम भाव में प्रवेश करने जा रहा है। जिससे आपको सामान्य से अनुकूल फलों की प्राप्ति होगी। हालांकि कार्यक्षेत्र पर आपको कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है. किसी बात को लेकर सहकर्मियों के साथ मतभेद हो सकते हैं. स्वास्थ्य के लिहाज से कुछ समस्या हो सकती है. आपको पेट से जुड़ा कोई विकार परेशान कर सकता है।आगे पढ़ें

यहां पढ़ें सर्दी के इस मौसम में अदरक का करें उपयोग, मिलेंगे कई फायदें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here